प्रशासनिक ढांचा

सामान्य प्रशासन
मेरठ मंडल में छः जनपद – मेरठ, बागपत, बुलंदशहर, गाजियाबाद, गौतबुद्धनगर, हापुड़ शामिल हैं, तथा इसका नेतृत्व मेरठ के मंडलायुक्त द्वारा किया जाता है। मंडलायुक्त मंडल के सभी स्थानीय सरकारी संस्थानों के प्रमुख है तथा मंडल के बुनियादी ढांचे के विकास के प्रभारी है।

मेरठ जिला प्रशासन के प्रमुख मेरठ के जिलाधिकारी है। जिलाधिकारी के अतिरिक्त जिला प्रशासन में मुख्य विकास अधिकारी (सीडीओ), अपर जिलाधिकारी (एडीएम) (प्रशासन, वित्त / राजस्व, शहर, भूमि अधिग्रहण, न्यायिक),  सिटी मजिस्ट्रेट (सीएम) एवं अपर सिटी मजिस्ट्रेट (एसीएम) भी सम्मिलित हैं।

मेरठ जनपद को 3 तहसीलों एवं 12 विकास खंडो में विभाजित किया गया है। तहसीलों का नेतृत्व उप-जिलाधिकारी द्वारा किया जाता है।

क्र0स0. तहसील ब्लाक कुल गांवो की संख्या
1. मेरठ जानी, खरखौदा, मेरठ, रजपुरा , रोहटा 302
2. मावाना हस्तिनापुर, माछरा,  मावाना, परिक्षितगढ 224
3. सरधना दौराला, सरधना, सरूरपुर 136

पुलिस प्रशासन
मेरठ जिला मेरठ पुलिस जोन तथा मेरठ पुलिस रेंज के अंतर्गत आता है। मेरठ जोन का नेतृत्व अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजी) द्वारा, तथा मेरठ रेंज का नेतृत्व महानिरीक्षक (आईजी) द्वारा होता है।

जिला पुलिस के प्रमुख वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) होते है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के अतिरिक्त पुलिस प्रशासन में कई पुलिस अधीक्षक (एसपी) / अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एडीएल एसपी) भी सम्मिलित होते हैं। जनपद को कई पुलिस क्षेत्रों में विभाजित किया गया है जिसका नेतृत्व क्षेत्राधिकारी द्वारा किया जाता है।